Print

Sixteenth Loksabha

an>

Title: Regarding development and other issues related to North-West Delhi.

डॉ. उदित राज (उत्तर-पश्चिम दिल्ली): अध्यक्ष महोदया, मेरा संसदीय क्षेत्र उत्तर पश्चिम दिल्ली है। मेरे क्षेत्र में काफी ग्रामीण एरिया है। वर्ष 2014 के चुनाव के पहले नरेला तक मेट्रो के लिए वहां बहुत बड़ा आंदोलन हुआ था। उनका यह कहना है कि गाजियाबाद, पलवल, फरीदाबाद, गुड़गांव तक मेट्रो जा रही है, लेकिन दिल्ली के गांव में जो लोग रह रहे हैं, क्या उन्होंने दिल्ली के गांव में पैदा होकर कोई अपराध किया है कि दिल्ली में ही मेट्रो नहीं पहुंच रही है और पड़ोसी राज्यों के जिलों में पहुंच रही है? आपके माध्यम से मेरी यही प्रार्थना है कि नरेला तक मेट्रो पहुंचाने का काम जल्द शुरू हो। यूडी मिनिस्ट्री और दिल्ली सरकार की इसकी जिम्मेदारी बनती है। दुर्भाग्य की बात है कि दिल्ली सरकार का कोऑपरेशन नहीं है।

          इसके अतिरिक्त अदिति महाविद्यालय कॉलेज बवाना में स्थित है। ग्रामीण क्षेत्र में गर्ल्स के लिए कोई डिग्री कॉलेज या यूनिवर्सिटी नहीं है। इस कॉलेज की बिल्डिंग नहीं है, जबकि पास में लैण्ड उपलब्ध है। उस लैण्ड को लेकर वहां महाविद्यालय बनाने की आवश्यकता है।

माननीय अध्यक्ष: शून्य काल में केवल एक विषय उठाया जाता है।

श्री दीपेन्द्र सिंह हुड्डा, श्री शरद त्रिपाठी और कुँवर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल को डॉ॰ उदित राज द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

an>

Title: Regarding development and other issues related to North-West Delhi.

डॉ. उदित राज (उत्तर-पश्चिम दिल्ली): अध्यक्ष महोदया, मेरा संसदीय क्षेत्र उत्तर पश्चिम दिल्ली है। मेरे क्षेत्र में काफी ग्रामीण एरिया है। वर्ष 2014 के चुनाव के पहले नरेला तक मेट्रो के लिए वहां बहुत बड़ा आंदोलन हुआ था। उनका यह कहना है कि गाजियाबाद, पलवल, फरीदाबाद, गुड़गांव तक मेट्रो जा रही है, लेकिन दिल्ली के गांव में जो लोग रह रहे हैं, क्या उन्होंने दिल्ली के गांव में पैदा होकर कोई अपराध किया है कि दिल्ली में ही मेट्रो नहीं पहुंच रही है और पड़ोसी राज्यों के जिलों में पहुंच रही है? आपके माध्यम से मेरी यही प्रार्थना है कि नरेला तक मेट्रो पहुंचाने का काम जल्द शुरू हो। यूडी मिनिस्ट्री और दिल्ली सरकार की इसकी जिम्मेदारी बनती है। दुर्भाग्य की बात है कि दिल्ली सरकार का कोऑपरेशन नहीं है।

          इसके अतिरिक्त अदिति महाविद्यालय कॉलेज बवाना में स्थित है। ग्रामीण क्षेत्र में गर्ल्स के लिए कोई डिग्री कॉलेज या यूनिवर्सिटी नहीं है। इस कॉलेज की बिल्डिंग नहीं है, जबकि पास में लैण्ड उपलब्ध है। उस लैण्ड को लेकर वहां महाविद्यालय बनाने की आवश्यकता है।

माननीय अध्यक्ष: शून्य काल में केवल एक विषय उठाया जाता है।

श्री दीपेन्द्र सिंह हुड्डा, श्री शरद त्रिपाठी और कुँवर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल को डॉ॰ उदित राज द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

an>

Title: Regarding development and other issues related to North-West Delhi.

डॉ. उदित राज (उत्तर-पश्चिम दिल्ली): अध्यक्ष महोदया, मेरा संसदीय क्षेत्र उत्तर पश्चिम दिल्ली है। मेरे क्षेत्र में काफी ग्रामीण एरिया है। वर्ष 2014 के चुनाव के पहले नरेला तक मेट्रो के लिए वहां बहुत बड़ा आंदोलन हुआ था। उनका यह कहना है कि गाजियाबाद, पलवल, फरीदाबाद, गुड़गांव तक मेट्रो जा रही है, लेकिन दिल्ली के गांव में जो लोग रह रहे हैं, क्या उन्होंने दिल्ली के गांव में पैदा होकर कोई अपराध किया है कि दिल्ली में ही मेट्रो नहीं पहुंच रही है और पड़ोसी राज्यों के जिलों में पहुंच रही है? आपके माध्यम से मेरी यही प्रार्थना है कि नरेला तक मेट्रो पहुंचाने का काम जल्द शुरू हो। यूडी मिनिस्ट्री और दिल्ली सरकार की इसकी जिम्मेदारी बनती है। दुर्भाग्य की बात है कि दिल्ली सरकार का कोऑपरेशन नहीं है।

          इसके अतिरिक्त अदिति महाविद्यालय कॉलेज बवाना में स्थित है। ग्रामीण क्षेत्र में गर्ल्स के लिए कोई डिग्री कॉलेज या यूनिवर्सिटी नहीं है। इस कॉलेज की बिल्डिंग नहीं है, जबकि पास में लैण्ड उपलब्ध है। उस लैण्ड को लेकर वहां महाविद्यालय बनाने की आवश्यकता है।

माननीय अध्यक्ष: शून्य काल में केवल एक विषय उठाया जाता है।

श्री दीपेन्द्र सिंह हुड्डा, श्री शरद त्रिपाठी और कुँवर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल को डॉ॰ उदित राज द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

an>

Title: Regarding development and other issues related to North-West Delhi.

डॉ. उदित राज (उत्तर-पश्चिम दिल्ली): अध्यक्ष महोदया, मेरा संसदीय क्षेत्र उत्तर पश्चिम दिल्ली है। मेरे क्षेत्र में काफी ग्रामीण एरिया है। वर्ष 2014 के चुनाव के पहले नरेला तक मेट्रो के लिए वहां बहुत बड़ा आंदोलन हुआ था। उनका यह कहना है कि गाजियाबाद, पलवल, फरीदाबाद, गुड़गांव तक मेट्रो जा रही है, लेकिन दिल्ली के गांव में जो लोग रह रहे हैं, क्या उन्होंने दिल्ली के गांव में पैदा होकर कोई अपराध किया है कि दिल्ली में ही मेट्रो नहीं पहुंच रही है और पड़ोसी राज्यों के जिलों में पहुंच रही है? आपके माध्यम से मेरी यही प्रार्थना है कि नरेला तक मेट्रो पहुंचाने का काम जल्द शुरू हो। यूडी मिनिस्ट्री और दिल्ली सरकार की इसकी जिम्मेदारी बनती है। दुर्भाग्य की बात है कि दिल्ली सरकार का कोऑपरेशन नहीं है।

          इसके अतिरिक्त अदिति महाविद्यालय कॉलेज बवाना में स्थित है। ग्रामीण क्षेत्र में गर्ल्स के लिए कोई डिग्री कॉलेज या यूनिवर्सिटी नहीं है। इस कॉलेज की बिल्डिंग नहीं है, जबकि पास में लैण्ड उपलब्ध है। उस लैण्ड को लेकर वहां महाविद्यालय बनाने की आवश्यकता है।

माननीय अध्यक्ष: शून्य काल में केवल एक विषय उठाया जाता है।

श्री दीपेन्द्र सिंह हुड्डा, श्री शरद त्रिपाठी और कुँवर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल को डॉ॰ उदित राज द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

an>

Title: Regarding development and other issues related to North-West Delhi.

डॉ. उदित राज (उत्तर-पश्चिम दिल्ली): अध्यक्ष महोदया, मेरा संसदीय क्षेत्र उत्तर पश्चिम दिल्ली है। मेरे क्षेत्र में काफी ग्रामीण एरिया है। वर्ष 2014 के चुनाव के पहले नरेला तक मेट्रो के लिए वहां बहुत बड़ा आंदोलन हुआ था। उनका यह कहना है कि गाजियाबाद, पलवल, फरीदाबाद, गुड़गांव तक मेट्रो जा रही है, लेकिन दिल्ली के गांव में जो लोग रह रहे हैं, क्या उन्होंने दिल्ली के गांव में पैदा होकर कोई अपराध किया है कि दिल्ली में ही मेट्रो नहीं पहुंच रही है और पड़ोसी राज्यों के जिलों में पहुंच रही है? आपके माध्यम से मेरी यही प्रार्थना है कि नरेला तक मेट्रो पहुंचाने का काम जल्द शुरू हो। यूडी मिनिस्ट्री और दिल्ली सरकार की इसकी जिम्मेदारी बनती है। दुर्भाग्य की बात है कि दिल्ली सरकार का कोऑपरेशन नहीं है।

          इसके अतिरिक्त अदिति महाविद्यालय कॉलेज बवाना में स्थित है। ग्रामीण क्षेत्र में गर्ल्स के लिए कोई डिग्री कॉलेज या यूनिवर्सिटी नहीं है। इस कॉलेज की बिल्डिंग नहीं है, जबकि पास में लैण्ड उपलब्ध है। उस लैण्ड को लेकर वहां महाविद्यालय बनाने की आवश्यकता है।

माननीय अध्यक्ष: शून्य काल में केवल एक विषय उठाया जाता है।

श्री दीपेन्द्र सिंह हुड्डा, श्री शरद त्रिपाठी और कुँवर पुष्पेन्द्र सिंह चन्देल को डॉ॰ उदित राज द्वारा उठाए गए विषय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

 

Developed and Hosted by National Informatics Centre (NIC)
Content on this website is published, managed & maintained by Software Unit, Computer (HW & SW) Management. Branch, Lok Sabha Secretariat