an>

Title: Need to set up a memorial in Zila Lakhimpur in the name of freedom fighters.

gÉÉÒ +ÉVÉªÉ ÉÊàÉgÉÉ ]äxÉÉÒ (JÉÉÒ®ÉÒ) :  +ÉvªÉFÉ àÉcÉänªÉÉ, £ÉÉ®iÉ BÉEä º´ÉiÉÆjÉiÉÉ +ÉÉÆnÉäãÉxÉ àÉå +ÉÉVÉ BÉEÉ ÉÊnxÉ ¤É½É àÉci´É{ÉÚhÉÇ cè* ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ) 9 +ÉMɺiÉ, 1942 BÉEÉä £ÉÉ®iÉ UÉä½Éä +ÉÉÆnÉäãÉxÉ |ÉÉ®Æ£É cÖ+ÉÉ lÉÉ, ÉÊVɺÉBÉEÉÒ 8 +ÉMɺiÉ, 1942 BÉEÉä PÉÉä­ÉhÉÉ BÉEÉÒ MɪÉÉÒ lÉÉÒ* ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ)

 

 

 

 

(At this stage Shri B.N. Chandrappa and some other hon. Members  came and stood on the floor near the Table.)

 

       

        àÉÉxÉxÉÉÒªÉ +ÉvªÉFÉ àÉcÉänªÉÉ, ªÉc ´Éc +ÉÉÆnÉäãÉxÉ lÉÉ, ÉÊVɺɺÉä iÉªÉ cÉä MɪÉÉ lÉÉ +ÉÉè® +ÉÆOÉäVÉÉå xÉä £ÉÉÒ àÉÉxÉ ÉÊãɪÉÉ lÉÉ ÉÊBÉE +É¤É £ÉÉ®iÉ BÉEÉä º´ÉiÉÆjÉiÉÉ näxÉÉÒ cÉÒ cÉäMÉÉÒ* ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ) ´É­ÉÇ 1942 ºÉä ´É­ÉÇ 1947 BÉEä ¤ÉÉÒSÉ àÉå AäºÉÉÒ ºÉ£ÉÉÒ |ÉÉ®ÆÉÊ£ÉBÉE ¤ÉÉiÉå, VÉèºÉä ºÉÆÉÊ´ÉvÉÉxÉ BÉEÉ ÉÊxÉàÉÉÇhÉ, ºÉkÉÉ BÉEÉ cºiÉÉÆiÉ®hÉ +ÉÉÉÊn cÖ<Ç lÉÉÓ* ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ) càÉÉ®ä àÉÉxÉxÉÉÒªÉ |ÉvÉÉxÉ àÉÆjÉÉÒ VÉÉÒ xÉä =ºÉBÉEÉ ºÉÆYÉÉxÉ ãÉäiÉä cÖA iÉªÉ ÉÊBÉEªÉÉ cè ÉÊBÉE càÉ {ÉÆÉÊbiÉ nÉÒxÉ nªÉÉãÉ ={ÉÉvªÉÉªÉ BÉEÉÒ VÉxàÉ ¶ÉiÉɤnÉÒ àÉxÉÉ ®cä cé, iÉÉä +ÉÉxÉä ´ÉÉãÉä {ÉÉÆSÉ ´É­ÉÉç ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ) VÉèºÉä ´É­ÉÇ 1942 ºÉä ´É­ÉÇ 1947 BÉEä ¤ÉÉÒSÉ cÖ+ÉÉ lÉÉ, ´ÉèºÉä cÉÒ càÉ ´É­ÉÇ 2017 ºÉä ´É­ÉÇ 2022 BÉEä ¤ÉÉÒSÉ àÉå £ÉÉ®iÉ nä¶É BÉEÉä ÉÊ´ÉBÉEɺɶÉÉÒãÉ nä¶É BÉEÉÒ gÉähÉÉÒ ºÉä ÉÊxÉBÉEÉãÉBÉE®  ÉÊ´ÉBÉEÉʺÉiÉ nä¶É BÉEÉÒ gÉähÉÉÒ àÉå ãÉɪÉå* ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ) <ºÉ nä¶É BÉEä ºÉ¤É ãÉÉäMÉÉå BÉEÉä àÉBÉEÉxÉ +ÉÉè® ®ÉäVÉMÉÉ® ÉÊàÉãÉä* ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ) ºÉ¤ÉBÉEÉÒ VÉä¤É àÉå {ÉèºÉÉ cÉä, AäºÉÉ ãÉFªÉ càÉÉ®ä |ÉvÉÉxÉ àÉÆjÉÉÒ VÉÉÒ BÉEÉ cè* ...(BªÉ´ÉvÉÉxÉ)

 (At this stage Shri Choudhury Mohan Jatua and some other hon. Members came and stood on the floor near the Table.)

 

     माननीय अध्यक्ष महोदया, मैं केवल एक मिनट में अपनी बात समाप्त करूंगा। ...(व्यवधान) यह अवसर बहुत महत्वपूर्ण है। मैं स्वतंत्रता संग्राम के सब सेनानियों को अपनी तरफ से श्रद्धा सुमन देते हुए अपने जिले के दो स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का विशेऐा उल्लेख करना चाहूंगा। ...(व्यवधान) वऐाऩ 1942 का आंदोलन एक महत्वपूर्ण आंदोलन था, जिसमें आखिरी फांसी मेरे लोक सभा क्षेत्र के श्री राज नारायण मिश्र को हुई थी। ...(व्यवधान) उसके बाद स्वतंत्रता आंदोलन में कोई फांसी नहीं हुई। ...(व्यवधान)     दूसरे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री बंसीधर शुक्ल हैं, जिनके गाये हुए गीतों को स्वतंत्रता आंदोलन और नेताजी सुभाऐा चन्द बोस की आजाद हिन्द फौज गाती थी। ...(व्यवधान)

     अध्यक्ष महोदया, मैं आपके माध्यम से भारत सरकार से अनुरोध करना चाहता हूं कि इन स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के नाम पर एक स्मारक लखीमपुर जिले में बनाया जाये। ...(व्यवधान) मैं सब स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को अपनी श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं। ...(व्यवधान) मैं सदन के विरोधी पक्ष से भी अनुरोध करना चाहता हूं कि पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जन्म शताब्दी वऐाऩ पर प्रधान मंत्री जी के टास्क का संज्ञान लेते हुए इस देश को पांच साल में एक विकसित देश बनाने के लिए अपना योगदान दें। ...(व्यवधान) इस देश के सब लोग सुखी हों, ऐसा पंडित दीन दयाल उपाध्याय जी का जो सपना था, उसे पूरा करने का काम करें। बहुत-बहुत धन्यवाद। ...(व्यवधान)

माननीय अध्यक्ष :    श्री सी.पी. जोशी, कुंवर पुऐपेद्र सिंह चन्देल, श्री शरद त्रिपाठी, श्री रोड़मल नागर, श्री सुधीर गुप्ता, श्री भैरों प्रसाद मिश्र और श्री अश्विनी कुमार चौबे  को श्री अजय मिश्रा टेनी द्वारा उठाए गए विऐाय के साथ संबद्ध करने की अनुमति प्रदान की जाती है।

(व्यवधान)

HON. SPEAKER: This is not proper.

(Interruptions)

HON. SPEAKER: You do not want the House to run.

(Interruptions)

माननीय अध्यक्ष :   होम मिनिस्टर ने स्टेटमैंट भी दिया है। What is this happening?

(व्यवधान)

 

 

 

 

 

Developed and Hosted by National Informatics Centre (NIC)
Content on this website is published, managed & maintained by Software Unit, Computer (HW & SW) Management. Branch, Lok Sabha Secretariat